दशहरा और रामलीला

सितम्बर 29, 2006

आजकल रामलीला की काफ़ी धूम मची हुई है। अपना भी बहुत मन करता है रामलीला देखने का, दोस्तो के साथ लेकिन एक तो समय का परोब्लम और फ़िर अब साथ जाने के लिए कोई दोस्त भी नही बचा। सब मशरूफ हो गये है दुनियादारी में। पहेले बहुत मजा आता था जब सब दोस्त साथ मिल कर रामलीला देखने जाते थे और बहुत मस्ती करते थे। वो किसी सुंदर लडकी को देखकर शरारत करना, या फ़िर झुले झुलना, एक बार में तो कभी मन भरता ही नही था, कभी कभी घर पर रामलीला देखने का बहाना बना कर नाईट शो देखने जाना, या फ़िर दोस्तो के साथ देर रात तक सडकों पर बेमकसद घूमना। सब कुछ कितना अच्छा था। लेकिन अब तो रामलीला देखने गये हुए ही कितने साल हो गए हैं। लेकिन सच कहें तो लगता है कि अब रामलीलाओं में वह बात नही रही, सब कुछ नकली हो गया है। रामलीलायें भक्तिमय न रहकर राजनितिक मंच हो गई है। अब भी कभी कभी केबल वाले की कृपा से लोकल रामलीला का लाईव प्रसारण देखने को मिल जाता है लेकिन वहाँ रामलीला कम और राजनिति होती ज्यादा दिखाई देती है। मंच पर आसीन सभी लोग अपना राजनीतिक कैरियर परवान चढाने की कोशिश में लगे दिखाई पडते है। इतने सब के बावजूद दशहरे पर रावण फुंकता हुआ देखने अभी भी जाता हुँ। भीड का एक हिस्सा बनने में कभी-कभी ही मजा आता है। कभी हम किसी के कंधों पर चढे थे आज किसी को हम अपने कंधों पर चढायेगें।


गांधी इज बैक

सितम्बर 26, 2006

एक खुशखबरी! गांधी जयंती के उपलक्षय में स्टार प्लस 1 अक्टूबर को रिचर्ड एटनबरो द्वारा निर्देशित “गांधी” फिल्म दिखा रहा है। लगता है लोग फिर से गांधी की और आकर्षित हो रहे है। पहले “लगे रहो मुन्नाभाई” की “गांधीगिरी”, अब स्टार प्लस पर “गांधी”।


हिन्दी मे एक नया टूल

सितम्बर 25, 2006

शिरिश जी का धन्यवाद। हिन्दी राइटर शायद सबसे अच्छा हिन्दी राइटिग का साफ्टवेयर है। इसके द्वारा टाईप करने पर हिन्दी की सबसे कम गलतियाँ होती है। अतः मेरा अनुरोध है कि ज्यादा से ज्यादा लोग इस साफ्टवेयर को अपनाएँ। यह साफ्टवेयर सँजाल पर मुफ्त उपलब्ध है।

www.devendraparakh.port5.com/

http://www.download.com/Devendra-Parakh/3260-20_4-6276513.html


स्वाग्त्म

सितम्बर 22, 2006

आज काफ़ि प्रायास कॆ बाद हिन्दि मॆ अप्ना पह्ला चिठ्ठा लिख र्हा हूं। हिन्दि मै लिख्ना सिखानॆ कॆ लिए जग्दिश जि तथा प्रत्य्क्शा जि का बहुत ही ध्न्यावाद। अभी िहन्दी मे िलख्ने का बहुत कम प्र्यास हे इस्िलए बाकी बाद मे।